बुधवार, 11 मार्च 2015

परी जो हो तुम

हक है तुम्हारा
चाँदपर चाँदी के महल के झरोखे में
चाँदनी से नहाकर मुस्कुराने का,
आखिर
परी जो हो तुम





(चित्र नेट से साभार)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें